Sign In

Blog

Latest News

सावित्रीबाई फुले की जयंती पर शायरी | Savitribai Phule Jayanti Shayari Status Quotes in Hindi

Rate this post

Savitribai Phule Birth Anniversary: सावित्रीबाई फुले जयंती पर शेयर करें कोट्स

सावित्रीबाई ज्योतिराव फुले भारत की प्रथम महिला शिक्षिका थी व समाज सुधारिका, मराठी कवयित्रीची थी| उनके पती का नाम ज्योतिराव फुले था उन्होने अपने पती के साथ मिलकर स्री अधिकारो ,शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य किये |

उन्होने पुणे मे बालिकावो के लिए एक विद्यालय की स्थापना की| सावित्रीबाई फुले का जन्म तीन जनवरी १८३१ को हुआ था | उनके पिता का नाम खंडोजी और माता का नाम लक्ष्मी था | सावित्रीबाई फुले का विवाह दस साल की उमर मे ज्योतिराव फुले से हुआ था | सावित्रीबाई फुले भारत के पहले बालिका विद्यालय की पहली प्रिन्सिपल और पहले किसान स्कूल की संस्थापक थी | सावित्रीबाई ने अपने जीवन को एक मिशन की तरह से जिया जिसका उद्देश था विधवा विवाह करवाना, छुआछत मिटाना , महिलाओ की मुक्ती और दलित महिलाओ को शिक्षित बनाना|

पाच सितंबर 1848 मे पुणे मे अपने पति के साथ मिलकर विभिन्न जातीयो की नऊ साथ उन्होने महिलाओ के लिए एक विद्यालय की स्थापना की | एक वर्ष मे सावित्रीबाई और महात्मा फुले 5 मे विद्यालय खोलने मे सफल हुए तत्कालीन सरकारने येणे सन्मानित भी किया एक महिला प्रिन्सिपल के लिये सन 1848 मे बालिका विद्यालय चलाना कितना मुश्किल रहा होगा इसकी कल्पना शायद आज भी नही की जा सकती| लडकियों की शिक्षा पर उस समय सामाजिक पाबंदी थी सावित्रीबाई फुले  दुसरी लडकियों को भी पढना सिखाया |

Savitribai Phule Jayanti Shayari in Hindi

  • माँ सावित्रीबाई फुले ने
    बाल विवाह का विरोध करना सिखाया,
    दीन-दुखियों और वंचितों को स्नेह से गले लगाया,
    स्त्री के हृदय में शिक्षा का अलख जलाया।
    माँ सावित्रीबाई फुले की जयंती पर शत-शत नमन
  • शिक्षा स्वर्ग का द्वार खोलती है, स्वयं को जानने का अवसर देती है.
  • रूढ़िवादी परम्पराओं को तोड़कर
    जिन्होंने स्त्रियों के लिए शिक्षा का
    अलख जगाया। स्त्री अधिकारों के लिए
    लड़ना सिखाया। ऐसी माँ सावित्रीबाई फुले
    के चरणों में शत-शत नमन और बंदन है.
  •  स्वाभिमान से जीने के लिए पढ़ाई करो, पाठशाला ही इंसानों का सच्चा गहना है.

Savitribai Phule Jayanti Status in Hindi

  • जब तक सूरज-चंदा
    और धरती पर जान रहेगा,
    माँ सावित्रीबाई फुले का
    हर इंसान कर्जदार रहेगा।
    सावित्रीबाई फुले जयंती की हार्दिक शुभकामनाएं
  • चौका-बर्तन से बहुत जरूरी है पढ़ाई,
    क्या तुम्हें मेरी बात समझ में आई.
    सावित्रीबाई फुले जयंती की हार्दिक शुभकामनाएं
  • देश की पहली महिला टीचर, समाज सुधारक एवं कवयित्री
    सावित्रीबाई फुले जी को उनकी जयंती पर शत्-शत् नमन.
    #SavitriBaiPhuleJayanti

Savitribai Phule Jayanti Quotes in Hindi

  • उसका नाम अज्ञान है। उसे धर दबोचो, मज़बूत पकड़कर पीटो और उसे जीवन से भगा दो.
  • एक सशक्त शिक्षित स्त्री सभ्य समाज का निर्माण कर सकती है, इसलिए उनको भी शिक्षा का अधिकार होना चाहिए.
  • अज्ञानता को तुम पकड़ो, धर दबोचो, मजबूती से पकड़कर उसे पिटो और उसे अपने जीवन से भगा दो.
  • दलितों और महिलाओं के अधिकारों के लिए
    सदैव संघर्ष करने वाली और देश की प्रथम
    बालिका विद्यालय की स्थापना करने वाली
    महान समाजसेविका सावित्रीबाई फुले की
    जयंती पर शत-शत नमन.
  • भारतीय समाज में लड़कियों
    के लिए शिक्षा का दरवाजा खोलने
    वाली प्रथम भारतीय महिला शिक्षिका,
    समाजसेविका और कवियत्री माँ
    सावित्रीबाई फुले की जयंती पर
    सादर नमन एवं बंदन।
  • स्त्रियां केवल घर और खेत पर काम करने के लिए नहीं बनी है, वह पुरुषों से बेहतर कार्य कर सकती है.

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *